प्लास्टिक सर्जरी क्या है?

Make An Appointment

प्लास्टिक सर्जरी का नाम सुनते ही हमारे मन में सबसे पहले सवाल उठता है कि प्लास्टिक सर्जरी क्या है या प्लास्टिक सर्जरी कैसे होता है ? प्लास्टिक सर्जरी एक एरिया बहुत ही बड़ा है यह कई प्रकार की होती है। इसमें न केवल कॉस्मेटिक और एस्थेटिक सर्जरी शामिल है बल्कि हाथ और कलाई की भी सर्जरी और साथ ही सर्जिकल रिकंस्ट्रक्शन और कई नॉनसर्जिकल प्रोसिजर भी शामिल हैं अब आपको पता चल गया होगा कि प्लास्टिक सर्जरी क्या है।

अब आपके मन में सवाल आता होगा है कि प्लास्टिक सर्जरी क्या होती है आइए कुछ सामान्य प्रकार की प्लास्टिक सर्जरी के बारे में विस्तार से जानते है:

रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी

आप जानना चाहते हैं कि प्लास्टिक सर्जरी क्या होती है तो आइए प्लास्टिक सर्जरीके ही एक प्रकार के बारे में जानते हैं। रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी को जानने का सबसे आसान और सरल तरीका यह है कि इसमें शरीर के किसी अंग और किसी काम को दुबारा से शुरू करने के लिए सर्जरी की जाती है। अक्सर शरीर में किसी प्रकार की बीमारी चोट लगने के बाद ही रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी की जरूरत होती है। इस सर्जरी के कुछ सबसे सामान्य उदाहरणों में शामिल हैं:

स्तन का पुनर्निर्माण(ब्रेस्ट रिकंस्ट्रक्शन)- आमतौर पर ब्रेस्ट कैंसर के कारण जिन महिलाओं के स्तन का पूरा या कुछ हिस्सा हटा दिया गया है उनमें इस सर्जरी की जाती है।

ट्रॉमा रिकंस्ट्रक्शन – अगर आपके साथ कोई गंभीर दुर्घटना हुई हैं या हाल फिलहाल आपको किसी गंभीर चोट का सामना करना पड़ा है जैसे कि कोई बड़ा घाव या कटा हुआ अंग या चेहरे पर कोई चोट, या जलने का निशान – इन सभी तरह के चोट को प्लास्टिक सर्जरी के माध्यम से डॉक्टर ठीक कर सकता है।

स्किन के कैंसर के निशान को हटाना – स्किन के कैंसर के घावों को बढने से रोकने या घावों को सर्जरी माध्यम से हटाने की जरूरत पड़ सकती है जो कि एक प्लास्टिक सर्जन द्वारा मरीज के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर आराम से किया जा सकता है।

हाथ और कलाई की सर्जरी

प्लास्टिक सर्जन हाथ और कलाई की भी पहुंचा कर सकता है और उसे पूरी तरह से पूर्व रूप में पहुंचा सकता है। हाथ या कलाई के सर्जरी के निम्न प्रकार होते है –

कार्पल टनल सिंड्रोम – कलाई के भीतर जब माध्यिका तंत्रिका पर दबाव पड़ता तब ऐसी स्थिति उत्पन होती है। व्यक्ति इस समय दर्द, झुनझुनी, सुन्नता या कमजोरी को महसूस कर सकते हैं।

गठिया – चाहे रुमेटीइड गठिया हो या साधारण सा एक्सीडेंट होने पर होने वाली अंदरुनी चोट के कारण सूजन हो उस समय गठिया आपके हाथों और कलाई को प्रभावित कर सकता है। जैसे जैसे समय बितेगा वह हमारी उंगलियों को खराब भी कर सकता है और उंगलियों या कलाई की गति को भी प्रभावित कर सकता है।

चोट लगना- प्लास्टिक सर्जन टूटी हुई हड्डियों और नसों को नुकसान पहुंचने पर भी इलाज कर सकता है और उसे पूर्व स्थिति में लाने का प्रयास कर सकता है।

कॉस्मेटिक सर्जरी

प्लास्टिक सर्जरी क्या होती है जानने के बाद आइए जानते हैं कि कॉस्मेटिक सर्जरी क्या होती है। कॉस्मेटिक सर्जरी एक प्रक्रिया है जिसके माध्यम से व्यक्ति का आत्म-सम्मान और बेहतर बनाने के लिए शरीर को नया आकार दिया जाता है। कॉस्मेटिक सर्जरी वैकल्पिक होता है, इसलिए यह सामान्यतः स्वास्थ्य बीमा द्वारा कवर नहीं किया जाता है। कॉस्टमेटिक सर्जरी के आम उदाहरणों में निम्न को शामिल किया जाता हैं:

ब्रेस्ट में वृद्धि के लिए – इस सर्जरी के माध्यम से स्तनों के आकार को बढ़ाने या उसके वजन को घटाने या गर्भावस्था के बाद ब्रेस्ट को सामान्य हालात में लाने के लिए शरीर पर कहीं और से भी टिश्यू को लिया जा सकता है।

टमी टक – टमी टक को एब्डोमिनोप्लास्टी भी कहा जाता है। टमी टक के माध्यम से पेट के क्षेत्र से अतिरिक्त फैट और स्किन को हटाया जाता है जिससे मोटापे में कमी आती है और व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास भी आता है।

लिपोसक्शन – यह एक ऐसी प्रक्रिया है जोकि जमी हुई वसा हटाकर शरीर के कुछ हिस्सों को पतला कर देती है और एक नया आकार देती है। लिपोसेक्शन शरीर के कई हिस्सों पर होता है जैसे – जांघ, कूल्हे, नितंब, पेट और कमर। उम्मीद है कि अब आप जान चुके होंगे कि प्लास्टिक सर्जरी क्या है तो आइए आगे जानते हैं कि प्लास्टिक सर्जरी कैसे होता है।

नॉनसर्जिकल प्रोसिजर

इस प्रकार के कामों के लिए ऑपरेटिंग रूम की जरूरत नहीं होती है और इसके माध्यम से प्लास्टिक सर्जन हमारी स्थिति में सुधार करने और उम्र के बढ़ते प्रभावों से छुटकारा पाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। प्लास्टिक सर्जनों द्वारा की जाने वाली सबसे सामान्य नॉनसर्जिकल प्रोसीजर निम्नलिखित हैं:

बोटॉक्स इंजेक्शन – बोटुलिनम टॉक्सिन एक इंजेक्शन है जोकि मांसपेशियों मे नर्व सिग्नल को रोकने का काम करता है और आंखों के आसपास से और चेहरे पर से रेखाओं और झुर्रियों को कम करने का काम करता है।

डर्मल फिलर्स- ये इंजेक्शन चेहरे की रेखाओं को कम करने और पहले के रूप में लाने की कोशिश करते हैं। चेहरे पर होने वाली गड्ढों को भी भरने का भी काम करता है। कई फिलर्स के उदाहरण है – कोलेजन, पॉलीलैक्टिक एसिड और पॉलीएल्किलिमाइड इत्यादि।

कॉस्मेटिक सर्जरी सहित प्लास्टिक सर्जरी के अपने जोखिम और सीमाएं हैं। किसी भी प्रक्रिया के साथ आगे बढ़ने से पहले, सुनिश्चित करें कि आपका प्लास्टिक सर्जन अमेरिकन बोर्ड ऑफ प्लास्टिक सर्जरी द्वारा मान्यता प्राप्त बोर्ड है। विशिष्ट, मापने योग्य और प्राप्त करने योग्य लक्ष्यों को स्थापित करने के लिए सर्जरी से पहले परामर्श का समय निर्धारित करें और अपने प्लास्टिक सर्जन के साथ मिलकर काम करें।

अब आप जान चुके हैं कि प्लास्टिक सर्जरी क्या है तो आइए जानते है कि प्लास्टिक सर्जरी कैसे होता है ।कॉस्मेटिक और प्लास्टिक सर्जरी के प्रोसिजर को करने के लिए कई अलग-अलग तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है। इन तकनीकों में शामिल हैं:

एंडोस्कोपिक सर्जरी

एंडोस्कोपिक सर्जरी सामान्यत: एंडोस्कोप के साथ ही की जाती है। इसमें ट्यूबलर टेस्ट किया जाता है जिसमें एक छोटा कैमरा होता है और लाइट होती है, फिर एक छोटे चीरे के माध्यम से निरीक्षण किया जाता है। कैमरे से चित्र को एक स्क्रीन पर देखा जाता है, जिससे सर्जन शरीर के अंदर एंडोस्कोप में हेरफेर करते समय देखता है। एंडोस्कोप सर्जिकल कामों के दौरान सर्जन की सहायता करने के लिए एक उपकरण है।

लेजर तकनीकी के माध्यम से
प्लास्टिक सर्जरी में लेजर का इस्तेमाल करना सबसे आसान और बहुत ही कम दर्दनाक होता है। लेजर सर्जरी के दौरान इससे निशान भी कम बनता है। सर्जरी के स्थान और काम को ध्यान में रखकर अलग अलग लेजर का इस्तेमाल किया जाता है। लेजर का निर्धारण डॉक्टर स्वयं करेगें।

स्किन ट्रांसप्लांट

चोट लगी हुई या खराब स्किन को ढकने के लिए ही त्वचा ट्रांसप्लांट का उपयोग किया जाता है। इस सर्जरी के प्रोसिजर में शरीर के एक हिस्से से स्किन के स्वस्थ हिस्से को लिया जाता है ताकि जहां स्किन खराब हुई है वहां लगाई जा सके। जिस जगह से स्किन निकाली जाती है उसे डोनर साइट कहते हैं। स्किन के आकार और उसके स्थान को ध्यान में रखकर तीन अलग-अलग प्रकार के त्वचा ग्राफ्ट का उपयोग किया जाता है- जैसेस्प्लिट-मोटाई स्किन ग्राफ्ट, फुल-थिक स्किन ग्राफ्ट
पूरी स्किन का ग्राफ्ट

हमारा ही चयन क्यों?

आर्टियस क्लिनिक बहुत अच्छी और बेहतरीन हेयर ट्रांसप्लांट सेवाओं में अपनी विशेषज्ञता और अनुभव के लिए जाना जाता है। अगर आप मुंबई में बहुत अच्छी और किफायती हेयर ट्रांस प्लांट के इच्छुक हैं तो आर्टियस क्लिनिक आपकी सहायता व सेवा जरूर करेगा। मुंबई में बालों के इलाज के बढ़ते खर्च के बावजूद आर्टियास क्लिनिक बहुत अच्छी सेवाएं देता है। FUE तकनीकी से इलाज का अनुभव भी आर्टियस क्लिनिक के पास है और FUE तकनीकि बालों के ट्रांसप्लांट में सर्वोत्तम विकल्प मानी जाती है जिसका लाभ आप आर्टियस क्लीनिक में उठा सकते हैं।

Leave a Comment

three × 5 =