पुरुषों में बाल झड़ने के कारण

Make An Appointment

बालों का झड़ना किसी भी व्यक्ति के लिए नुकसानदायक हो सकता है और इस समय अगर आपको यह भी महसूस होता है कि आपके बाल पतले हो रहे हैं तो ऐसा महसूस करने वाले आप अकेले नहीं हैं। इस समय बालों का झड़ना सबसे सामान्य समस्या में से एक है। इस समस्या स्किन के स्पेशलिस्ट डॉक्टर देखते हैं और ऐसी अधिकतर समस्याओं का इलाज संभव है। पर सबसे पहले यह जानना जरुरी हो जाता है कि पुरुषों में बाल झड़ने के कारण क्या है ?

एलोपेसिया क्या है ?

बालों के झड़ने की समस्या या बीमारी को डॉक्टरी भाषा में एलोपेसिया कहा जाता है। कई लोग सोचते हैं कि बाल झड़ने की समस्या सिर्फ और सिर्फ पुरुषों के साथ होती है पर आधे से अधिक महिलाओं में भी बाल झड़ने की समस्या होती है और उन्होंने अपने जीवन में कभी न कभी इस समस्या का अनुभव जरूर किया होगा आइए जानते हैं कि पुरुषों में बाल झड़ने के कारण क्या हैं ?
अगर आपको नीचे बताए गए लक्षण दिखते हैं तो हो सकता है कि आपको एलोपेसिया हो गया हो:

  • बालों का पतला होना
  • गंजेपन के धब्बों का बढ़ना
  • घटती हुई हेयरलाइन

एक दिन में 50 से 100 बाल झड़ना सामान्य सी बात होती है। पर अगर आपके बाल इससे अधिक झड़ते हैं तो जरूर कहीं न कहीं समस्या है। बालों झड़ते समय आप कई पैटर्न देख सकते है और संभव है उन पैटर्न के लक्षण भी अलग अलग हों। आइए पुरुषों में बाल झड़ने के कारण के बारे में और अधिक जानते हैं।

उम्र के कारण बालों का झड़ना

पुरुषों में बाल झड़ने के कारण मे सबसे प्रमुख होती है उनकी उम्र। लगभग सभी लोगों को उम्र बढ़ने के साथ ही बालों के झड़ने और बालों के पतले होने कैसे लक्षण दिखने लगते होंगे। हमारी कोशिकाएं लगातार बढ़ती हैं पर साथ ही वो धीरे धीरे खत्म भी होती रहती है। जैसे जैसे हमारी उम्र बढ़ती है तो कोशिकाओं को खत्म होने की गति तेज हो जाती है इसलिए उम्र बढ़ने के साथ साथ हमारी हड्डियां कमज़ोर और स्किन पतली हो जाती है। यह हमारे बालों में समान रूप से चलती रहती है।

उम्र बढ़ने के साथ साथ स्कैल्प में तेल बनने की मात्रा बहुत ही कम हो जाती है, जिससे हमारे बाल कमजोर और खराब भी हो सकते हैं। यह सिर के बालों के झड़ने और पतले होने की गति को भी बढ़ा सकता है। तो हम कह सकते हैं कि पुरुषों में बाल झड़ने के कारण में उम्र महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

कुछ लोगों को एंड्रोजेनेटिक एलोपेसिया के कारण या पैटर्न के रूप में बालों का झडना गंभीर रूप से बालों के झड़ने के रूप में देखा जा सकता है।

आनुवंशिक कारणों के कारण

पुरुषों में बाल झड़ने के कारण में एंड्रोजेनेटिक एलोपेसिस या अनुवांशिक कारण या उम्र भी होता है। बालों ले झड़ने की शुरुआत जब कोई युवा रहता है तभी हो जाती है और धीरे धीरे उम्र बढ़ने के साथ ही वो समस्या बढ़ती ही जाती है।

पुरुषों में इस प्रकार से बालों का झड़ना अक्सर सर के ऊपरी हिस्से से शुरू होता है और फिर पूरे सिर में फैल जाता जाता है। सिर के ऊपर बालों में थोड़ा पतलापन भी हो सकता है। उम्मीद है अब आप जान गए होंगे कि पुरुषों में बाल झड़ने के कारण क्या हैं पर आइए थोड़ा और विस्तार से जानते हैं।

महिलाओं में बालों के झड़ने का सबसे पहले पता वहां चलता है जहां से वो दोनोंतरफ के बालों को अलग अलग करती है पर धीरे धीरे बालों का यह पतलापन पूरे सिर में फैल जाता है। हेयर लाईन के आसपास बालों का पतलापन सबसे पहले दिखने लगता है। हेयरलाइन चौड़ी हो जाती है।

आपने कई बार सुना होगा कि एक पैटर्न की तरह बालों का झड़ना अक्सर आनुवांशिक कारणों के कारण होता है लेकिन शोधकर्ताओं ने पता लगाया है कि कई जीन बालों के झड़ते समय व्यक्ति को प्रभावित करते हैं और ऐसा ही एक जीन है जिसे एण्ड्रोजन (जिन्हें कभी-कभी “पुरुष हार्मोन” कहा जाता है) के नाम से जाना जाता है जो कि व्यक्ति के रोम पर हमला करता है। एंड्रोजन भी पुरुषों में बाल झड़ने के कारण में प्रमुख माना जाता है।

हार्मोनल बदलाव

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) और जन्म से ही ओवरी हाइपरप्लासिया (सीएएच) जैसी समस्याओं में व्यक्तियों के शरीर में एण्ड्रोजन का स्तर काफी अधिक होता है, जो कि फीमेल पैटर्न हेयरफॉल का कारण बन सकता है। अगर आप पिछले कुछ समय से बालों के झड़ने की समस्या का अनुभव करती हैं या निम्न में से किसी अन्य लक्षण को देखती हैं तो अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकती है और उन्हें हार्मोनल टेस्ट के लिए भी सकती है:

  • मुँहासे
  • चेहरे या शरीर पर अधिक बाल उगना
  • पीरियड्स का अनियमित होना

अन्य कई चीजें भी किसी व्यक्ति के हार्मोन के स्तर को प्रभावित कर सकती हैं – जैसे कि गर्भावस्था के समय, प्रसवबे समय, रजोनिवृत्ति के बाद और हाइपोथायरायडिज्म भी बालों के विकास को प्रभावित कर सकता है। अगर दवा लेने के कारण आपमें ये बदलाव हो रहें हैं तो उन दवाइयों में परिर्वतन करके आप इससे निजात पा सकते हैं।

पोषक तत्वों की कमी

पुरुषों में बाल झड़ने के कारण में पोषक तत्वों की कमी भी शामिल है। पोषक तत्वों की कमी के कारण बालों का झड़ना बेहद ही धीमी गति से शुरू होता है और लंबे समय तक (6 महीने से अधिक) बना रहता है। इसके कारणों में पोषक तत्वों की कमी के ही कारण शामिल होते हैं। और विटामिन की कमी आमतौर पर खाने में विटामिन शामिल होने के साथ ही आसानी से ठीक हो जाती है। पर किसी भी नए सप्लीमेंट को आजमाने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर बात कर लें।

ऑटो इम्यून बीमारियां

एलोपेसिया एरिटा बालों के झड़ने का ही एक रूप होता है और इसका कारण ऑटोइम्यून ही होता है। शरीर का इम्यूनिटी सिस्टम स्वस्थ बालों के रोम पर तेज़ी से हमला करता है, जिससे कि वे गिर जाते हैं। ऑटो इम्यून बिमारियां भी पुरुषों में बाल झड़ने के कारण में प्रमुख भूमिका निभाती हैं।
बालों को ठीक करते समय आपके हेयरड्रेसर को स्कैल्प पर बालों के झड़ने का गोल पैच मिल सकता है या आप अपनी भौहों में भी पलकों का झडना देख सकती हैं। पुरूषों को अपनी दाढ़ी में कई पैच दिख सकते हैं।

स्किन स्पेशलिस्ट मरीज के सिर में अगर में कोर्टिसोन नाम का इंजेक्शन लगाए तो रिकवरी में तेजी आ सकती है। अगर बाल बहुत ही अधिक तेज़ी से गिर रहें हैं तो उसके लिए कई दवाएं और कई तरह के इलाज का विकल्प डॉक्टर के पास रहता है।

हमारा ही चयन क्यों ?

आर्टियस क्लिनिक बहुत अच्छी और बेहतरीन हेयर ट्रांसप्लांट सेवाओं में अपनी विशेषज्ञता और अनुभव के लिए जाना जाता है। अगर आप मुंबई में बहुत अच्छी और किफायती हेयर ट्रांस प्लांट के इच्छुक हैं तो आर्टियस क्लिनिक आपकी सहायता व सेवा जरूर करेगा। मुंबई में बालों के इलाज के बढ़ते खर्च के बावजूद आर्टियास क्लिनिक बहुत अच्छी सेवाएं देता है। FUE तकनीकी से इलाज का अनुभव भी आर्टियस क्लिनिक के पास है और FUE तकनीकि बालों के ट्रांसप्लांट में सर्वोत्तम विकल्प मानी जाती है जिसका लाभ आप आर्टियस क्लीनिक में उठा सकते हैं।

Leave a Comment

15 − fourteen =